Depression ko kaise khatam kare ?

ना तो मैं साइक्लोजेस्ट हूं, ना ही मैं साइकैटरिस्ट हूं, मेरा नाम दीपक यादव है, और मैं एक डिप्रेशन का मरीज था, जो आज एक लाइफ कोच हूं |

आज से लगभग 4 साल पहले, जब मैं कॉलेज में था तो मैं बहुत ज्यादा डिप्रेस्ड था, बहुत ज्यादा उदास था मरने के अलग-अलग तरीके खोज रहा था, नींद तो आती ही नहीं थी, कुल मिलाकर बहुत ज्यादा डिप्रेस्ड था |

और आज मैं अपने अनुभव के द्वारा बताना चाहूंगा कि आप भी चिंता, अवसाद और तनाव से मुक्त हो सकते हैं |

NOTE : Agle article ko next button par click karke pad sakte ho, aur aapko Depression Aur Anxiety Se free hone ke liye sabhi article padne hai.

NEXT 1 : मुझे डिप्रेशन क्यों हुआ ?