Deepak Yadav

how to cure depression in Hindi

0Shares

The way the corona virus spread fear
Because of this, this corona covid-19 reached us or did not reach us, but the fear of corona (covid-19) has surrounded us all around.

जिस तरह से कोरोना वायरस का डर फैलाया
जा रहा है , इस वजह से यह कोरोना covid-19 हम तक पहुंचे या ना पहुंचे लेकिन कोरोना (covid-19) का डर हमें चारों तरफ से घेर चुका है |

In fact, instead of fearing it, we need more of Aware from this virus, many epidemics came and went many times before, but there was no Anxiety at that time.
वास्तव में हमें इससे डरने की जगह हमें इस वायरस से Aware रहने की ज्यादा जरूरत है ,बहुत सी महामारी पहले भी कई बार आई और गई, लेकिन उस समय कोई Anxiety नहीं थी |

But today it has become a topic of common discussion for people, fear of corona virus has increased so much that due to the common cold, people are reminded of corona only after hearing the name of cold.
लेकिन आज लोगों के लिए यह एक आम चर्चा का विषय बन गया है , लोगों में मामूली सर्दी जुकाम के हो जाने से कोरोना वायरस का डर इतना बढ़ गया है कि लोगों को सर्दी जुकाम का नाम मात्र सुनते ही कोरोना की याद आ जाती है |

In fact, Corona has become the subject of mental illness rather than physical illness today.
वास्तव में कोरोना आज एक शारीरिक बीमारी की जगह मानसिक बीमारी का विषय बन गया है |

Let’s try to understand on the basis of common sense, today about 1% of the world will have less doctors than percent population, out of which. 01% would understand the subject of percent virus well, but through social media we are getting badly influenced.
कॉमन सेंस के बेस पर समझने की कोशिश करते हैं, आज दुनिया की लगभग 1 % परसेंट पॉपुलेशन से कम डॉक्टर होगी , जिसमें से . 01% परसेंट वायरस के विषय को अच्छे से समझते होंगे , लेकिन सोशल मीडिया के माध्यम से हम बुरी तरह influence हो रहे हैं |

Today everyone is making videos about Corona, writing blogs, from which they feel that they are working to increase social Awareness, in fact these people are increasing the social fear.
आज हर कोई कोरोना को लेकर वीडियो बना रहे हैं, ब्लॉग लिख रहे हैं , जिसमें से उन्हें लगता है कि वह social Awareness बढ़ाने का काम कर रहे हैं, वास्तव में यह लोग Social fear को बढ़ा रहे हैं |

Today you see me, today my blog title was “How can humans be happy even after many troubles” but my brother said – write about brother Corona, it is going on trend, so I also thought about my corona topic Appeared on.
आज आप मुझे ही देख लो मेरा आज blog का टाइटल था “बहुत सी परेशानियों के बाद भी इंसान खुश कैसे रहें” पर मेरे भाई ने बोला – भाई कोरोना के बारे में लिखो यह ट्रेंड में चल रहा है, तो मैंने भी अपने विचार कोरोना विषय पर प्रकट किए |

thank you for read it .

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *