Jan 16, 2021 anxiety disorder

Ateet ko kaise bhulaaye : Deepak ke anusaar Past ki puraani buri yado ko bar bar aane ki bimari ko aasaani se bhulane ke 5 achuk aur aasaan upaay

Ateet ko kaise bhulaaye dosto aaj hum bat karenge ki kaise hum un palo ko bhula de jo bar bar hume satate hai

अतीत को भूलने के 5 आसान उपाय

निश्चित ही पास्ट में आपके साथ कुछ गलत हुआ है, इसलिए आप अपने पास्ट को भूलना चाहते हैं |

लेकिन आप पास्ट में हुई सिर्फ गलत चीजों को भूलना चाहते हैं, जो आपके हिसाब से गलत है, ना कि पूरे पास्ट को |

वास्तव में हम पास्ट को भी भूलना नहीं चाहते, लेकिन पास्ट की मेमोरी की वजह से जो effect होता है हम उसे भूलना चाहते हैं |

कुछ भूलने की कोशिश मत करो :

दोस्तों हमारा मन इस तरह काम नहीं करता कि आप जिसे भूलने की सोचोगे, और वह आपके दिमाग से गायब हो जाएगा |

बल्कि वही चीज बार बार आपके दिमाग में आएगी और एक pattern बन जाएगी |

इसलिए कुछ भी भूलने की कोशिश मत करो बल्कि इस पल को अपना लो, कुछ भी बदलने की कोशिश मत करो |

वर्तमान में जियो :

क्या आप जानते हैं पास्ट & फ्यूचर जैसी कोई चीज नहीं होती?

वास्तव में पास्ट & फ्यूचर मन के बनाए हुए कांसेप्ट है,
जो हम इंसानों ने हमारी सुविधा के अनुसार बनाए हैं |

हम हमेशा वर्तमान में जीते हैं, वर्तमान में रहते हैं वर्तमान में खाते-पीते हैं |

सोचिए !

क्या आप अभी पास्ट में जाकर खाना खा सकते हैं ?
क्या आप अभी फ्यूचर में जाकर खाना खा सकते हैं?

हमारे साथ जो भी होता है वह अभी मैं होता है, और यह अभी वर्तमान है |

इसलिए पास्ट-फ्यूचर को छोड़कर वर्तमान में फोकस करें |

हमेशा अपनी सोच के प्रति जागरूक रहे हैं :

आप अभी आपके मन में झांक कर देखो आपके मन में क्या चल रहा है ?

और कुछ समय तक अगले विचार आने का इंतजार करते रहो |

जब आप यह करते हैं, तो शायद ही आपको कोई विचार आएगा |

इस अवस्था में होने पर ना आपको पास्ट regret होगा, न हीं फ्यूचर की टेंशन होगी |

माफ कर दो और भूल जाओ :

उन लोगों को माफ कर दो जिन्होंने आपका दिल दुखाया है, याद करो उनको जिन्होंने पिछली बार आपका दिल दुखाया था |

अपने मन में उनका नाम लो और बोलो हे दोस्त मैं तुम्हें माफ करता हूं |

और यदि खुद ने भी आपने आपका दिल दुखाया है तो आप खुद को माफ कर दे |

Cause & effect :

क्या आप जानते हैं, दुनिया में हर घटना घटित होने का, कोई ना कोई कारण होता है |

और उस घटना का घटित होना एक प्रभाव है |

जो आपके साथ हो रहा है यह एक प्रभाव है, जिसकी वजह से आपको पास्ट याद आ रहा है |

इस प्रभाव को खत्म करने के लिए आपको इसके cause पर अमल करना होगा |

More article on past ko kaise bhulaye ?

कैसे भूलें अपनी गलतियों को : स्वयं को माफ़ करने के ५ तरीके

Kaise kisi yaad ko jaanboojhkar bhulaye?

Mai apne atit ko kaise bhulau ?

Use kaise bhulaye jisse aap pyar karte the

past ko bhulkar happy life kaise bitaye

Conclusion :

अतीत को भूलने के 5 आसान उपाय


1. कुछ भूलने की कोशिश मत करो
2. वर्तमान में जियो
3. माफ कर दो और भूल जाओ :
4. हमेशा अपनी सोच के प्रति जागरूक रहे हैं :
5. Cause & effect

दोस्तों, मेरा नाम दीपक यादव है, और मैं एक Self – Help Coach हूं |

Kya aap mujhse personal counselling chahte jiska shulk matra 99 rupees prati ghanta hai ?

Thank you

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *